कोरोना के खिलाफ जंग में सहयोग के लिए केजरीवाल ने केन्द्र सरकार का जताया आभार

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में सहयोग के लिए केन्द्र सरकार का आभार जताया है। केजरीवाल ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग के कारण आज दिल्ली में रोजाना 20 हजार टेस्टिंग हो रही है। इसके लिए हम केंद्र सरकार को शुक्रिया कहना चाहते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा, “15 मई के बाद दिल्ली में तेजी से कोरोना बढ़ा है। बेड की कमी से कोरोना का आंकड़ा बढ़ा है। लॉकडाउन की वजह से कोरोना पर नियंत्रण हुआ है। अस्पतालों में 40 फीसदी बेड बढ़ाए गए हैं। दिल्ली में साढ़े 13 हजार बेड हैं। यहां आधे से ज्यादा बेड खाली हैं।” उन्होंने कहा कि हमारी लड़ाई लगभग मार्च में शुरू हुई। मार्च में पूरी दुनिया से कोरोना दिल्ली आया। केंद्र ने सही निर्णय लेते हुए सभी बाहरी लोगों को फ्लाइट से उनके देश भेजने का इंतजाम किया।

मार्च में विदेशों से 35000 लोग दिल्ली आए। इन लोगों को एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग करते थे और देखते थे कि बुखार है क्या। चंद लोग जिनको बुखार था, उन्हें आरएमएल सफदरजंग में भर्ती कराया गया, बाकियों को उनके घर भेज दिया। कुछ लोगों को क्वारंटीन किया गया था, लेकिन लगभग 35000 लोगों को घर भेज दिया। ये लोग जो घर गए, उस वक्त ज्यादा जागरुकता नहीं थी, टेस्टिंग किट भी नहीं थी तो एक से दूसरे और दूसरे से तीसरे को फैलता गया। उस समय टेस्टिंग लैब भी नहीं थे। फिर लॉकडाउन हुआ इसलिए कोरोना थोड़ा कम फैला। मई में लॉकडाउन के अंतिम हफ्ते में 15 मई के आसपास कोरोना तेजी से फैलने लगा। जब लॉकडाउन खुला तो उम्मीद थी कि केस कम होंगे लेकिन उम्मीद से ज्यादा केस बढ़े। जून के आते-आते दिल्ली में बेड की कमी नजर आने लगी और बेड की कमी होने की वजह से जब मरीजों को इलाज नहीं मिला तो मौत का आंकड़ा बढ़ने लगा।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्लीवालों ने करोना के खिलाफ जबरदस्त युद्ध छेड़ा हुआ है। इस युद्ध में हमारे ये पांच हथियार हैं। जिसमे बेड की संख्या बढ़ाई गई, ऑक्सी मीटर दिया गया, बड़े पैमाने पर टेस्टिंग, सर्वे, प्लाज्मा थेरेपी हमने इनपर काम किया। दिल्ली सरकार की ओर से शुक्रवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक राज्य में कोरोना संक्रमण के अब तक 77,240 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें पिछले 24 घंटे में कोरोना के 3460 नए मामले सामने आए हैं। कोरोना से 63 लोगों की मौत हुई है। इस तरह कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2492 हो गई है। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 2326 लोग स्वस्थ/माइग्रेट हुए हैं। अब तक कुल 45,091 मरीज स्वस्थ/माइग्रेट हुए हैं। दिल्ली में 27,657 अभी एक्टिव केस हैं। वहीं जोखिम क्षेत्रों (कंटेनमेंट जोन) की संख्या 280 है। दिल्ली में आज 21144 लोगों की कोरोना जांच हुई है, वहीं अबतक 4, 59,156 लोगों की जांच हो चुकी है।