हाथरस पीड़िता को लेने बिना नंबर की एम्बूलेंस पहुंची, कारण पूछने पर की मारपीट : अजय दत्त

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक अजय दत्त ने सफदरगंज अस्पताल हाथरस पीड़िता को लेने बिना नंबर की एम्बूलेंस के पहुंचने एवं कारण पूछने पर दिल्ली पुलिस के अधिकारियों द्वारा उनके साथ मारपीट करना का आरोप लगाया है। आप विधायक अजय दत्त ने बुधवार को पत्रकार वार्ता में आरोप लगाते हुए कहा कि हम कल (मंगलवार) सफदरजंग अस्पताल में थे।

वहां पीड़ित परिवार के पास गए थे। तभी सफदरजंग अस्पताल से हाथरस पीड़िता को लेने बिना नंबर की एम्बूलेंस पहुंची। उन्होंने कहा कि इसका क्या राज था, अगर वो सरकारी थी तो उस पर नंबर क्यों नहीं था। जब यह बात हमने पुलिस अधिकारियों से पूछनी चाही तो उन्होंने मारपीट कर दी। दत्त ने कहा कि उन्हें लगातार धमकी मिल रही थी, हमने वहां बिना नम्बर प्लेट के एम्बुलेंस को देखा। हमने पुलिस अधिकारियों से पूछा तो उन्होंने मेरी पिटाई कर दी।

थप्पड़, लात, घूंसे मारे। दिल्ली सरकार में मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि कल आप विधायक अजय दत्त के साथ दिल्ली पुलिस के डीसीपी और अन्य पुलिस वालों ने बदतमीज़ी की है, ये बेहद शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि हम मांग करते हैं उस जगह के डीसीपी समेत अन्य पुलिस वालों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि दो बार के विधायक के साथ दिल्ली पुलिस ऐसे पेश आती है। पीड़िता हमारे समाज से है, हम तो उनकी मदद के लिए जाएंगे। हमने पुलिस कमिश्नर को शिकायत दे दी है। उन्होंने कहा कि हम मांग करते है कि हाथरस सामूहिक दुष्कर्म मामले की जांच सीबीआई से करवाई जाए क्योंकि हमें उत्तर प्रदेश पुलिस से न्याय की बिल्कुल उम्मीद नहीं है। साथ ही पीड़ित परिवार को दो करोड़ का मुआवजा दिया जाए और उनकी जान को खतरा देखते हुए सुरक्षा मुहैया करवाई जाए।