आज CM केजरीवाल का कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल लिया गया

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तबियत को लेकर मंगलवार को नई खबर सामने आई है. सूत्रों के मुताबिक, सीएम केजरीवाल की तबियत स्थिर है. इस बीच कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका को देखते हुए मंगलवार सुबह उनका सैंपल भी लिया गया है. अब रिपोर्ट का इंतजार है. टेस्‍ट रिपोर्ट के बाद साफ हो जाएगा कि उन्हें कोरोना वायरस का संक्रमण है या फिर वे सामान्य वायरल फीवर से ग्रसित हैं.

सोमवार को सीएम अरविंद केजरीवाल की तबीयत बिगड़ने की बात सामने आई थी. उन्हें बुखार और गले में खराश की शिकायत है. इस वजह से उन्‍होंने दोपहर में होने वाली मीटिंग भी कैंसिल कर दी थी. उन्‍होंने खुद को आइसोलेट भी कर लिया है. वहीं, डॉक्‍टरों ने उन्हें COVID-19 टेस्‍ट कराने की सलाह दी थी. जानकारी के मुताबिक, सीएम केजरीवाल को रविवार से ही हल्‍के बुखार की शिकायत है.

मीटिंग से खुद को अलग कर लिया था

बता दें कि सीएम केजरीवाल रोज दोपहर में दिल्ली में कोरोना मामले को लेकर खुद मीडिया से बात करते रहे हैं. लेकिन बुखार और गले में खराश की शिकायत के बाद सोमवार को उन्होंने दोपहर में होने वाली मीटिंग से खुद को अलग कर लिया था. दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच खुद मुख्यमंत्री की तबीयत खराब होने की खबर से दिल्ली सरकार और स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई है. इस बीच सीएम केजरीवाल की सेहत को लेकर सतर्कता बरती जा रही है. आपको बता दें कि किसी राज्य के मुख्यमंत्री के आइसोलेशन में जाने का यह दूसरा मामला सामने आया है. इससे पहले उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की कैबिनेट के एक मंत्री के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सीएम समेत 3 मंत्रियों को सेल्फ क्वारंटाइन में रखा गया है.

24 घंटों में 1007 नए मामले सामने आए

ऐसे भी दिल्ली में कोरोना का कहर कुछ ज्यदा ही देखने को मिल रहा है. पिछले 24 घंटों में 1007 नए मामले सामने आने से अरविंद केजरीवाल सरकार की परेशानी और बढ़ गयी है. इसके साथ दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 29943 पहुंच गया है. हालांकि शहर में किसी एक दिन में सर्वाधिक मामले 3 जून को सामने आये थे और यह संख्या 1513 थी. दिल्‍ली सरकार के मुताबिक पिछले 24 घंटे 17 मौत हुई हैं. इसके चलते मरने वालों का आंकड़ा 874 पर पहुंचा गया है. जबकि 358 मरीज ठीक होकर अपने घर लौट गए हैं.