चाय बेचने वाले की बेटी ने रचा इतिहास, भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर बानी

नई दिल्ली, (hdnlive)। मध्यप्रदेश के नीमच में चाय बेचने वाले की बेटी आंचल गंगवाल (24) भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर बन गईं हैं। आंचल अब वायुसेना में फाइटर प्लेन उड़ाएगी। मध्य प्रदेश के नीमच में चाय की दुकान लगाने वाले सुरेश गंगवाल की बेटी आंचल ने इतिहास रचकर दिखाया है। आंचल के पिताजी सुरेश गंगवाल मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से करीब 400 किलोमीटर दूर नीमच में बस स्टैंड पर पिछले करीब 25 साल से एक छोटी सी चाय की दुकान चलाते हैं। सुरेश गंगवाल ने बताया, ‘वर्ष 2013 में उत्तराखंड के केदारनाथ में आई भीषण त्रासदी के बाद वायुसेना के कर्मचारी बहादुरी से वहां लोगों की मदद करने में लगे थे। इसे आंचल ने देखा था और तब से ही फ्लाइंग ऑफिसर बनने का सपना देखा था, जो अब साकार हुआ है।’ उन्होंने कहा कि अपने सपने को साकार करने के लिए आंचल ने किताबें एकत्र कीं और परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी।

सुरेश ने बताया कि आंचल छठे प्रयास में इस परीक्षा को पास करने में सफल रही। उन्होंने कहा, ‘मैं पिछले करीब 25 साल से चाय की दुकान चलाता हूं। इसलिए कोई भी मेरी आर्थिक स्थिति के बारे में समझ सकता है कि यह कैसी है?’ हाई स्कूल पास सुरेश ने बताया, ‘कई बार मेरे पास अपनी बेटी की स्कूल या कॉलेज की फीस भरने के लिए पैसे भी नहीं होते थे। कई बार मैंने लोगों से उधार लेकर उसकी फीस भरी।’ उन्होंने कहा कि उसका फ्लाइंग ऑफिसर बनना हमारे लिए गर्व की बात है।मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘नीमच में चाय की दुकान लगाने वाले सुरेश गंगवाल की बेटी आंचल अब वायुसेना में फाइटर प्लेन उड़ाएगी। मध्यप्रदेश को गौरवान्वित करने वाली बेटी आंचल अब देश के गौरव और सम्मान की रक्षा के लिए अनंत आकाश की ऊंचाइयों में उड़ान भरेगी।

बेटी को बधाई, आशीर्वाद और शुभकामनाएं।’शिवराज ने ट्विटर पर आंचल के लिए कविता भी पोस्ट की. शिवराज ने लिखा, ‘रौशन थी धरती तुझसे, अब रौशन होगा आसमां भी, दुआओं पर परवाज करो, रौशन कर दो जहां भी, अंधेरों को चीरकर फिर एक बेटी ‘आंचल’ ने रच दिया है इतिहास, ऐसे ही बढ़ती रहें बेटियां, यही तो हैं हम सबका गौरव और अभिमान भी. बेटी आंचल को स्नेह और आशीर्वाद! माता-पिता को बहुत-बहुत बधाई!’