दुनिया की सबसे लोकप्रिय ईमेल सर्विस जीमेल अब नए अवतार में दिखेगी। गूगल ने अपनी ईमेल सर्विस में ईमेल स्नूज़िंग, कॉन्फिडेंशल मोड और टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन जैसे नए फीचर्स जारी कर दिए हैं। इसके अलावा वेब पर जीमेल के डिज़ाइन को पूरी तरह से बदल दिया गया है। नया जीमेल डिज़ाइन को बुधवार से रोलआउट होना शुरू हो गया है। 2011 के बाद, जीमेल में यह अब तक का सबसे बड़ा बदलाव किया गया है।

गूगल ने कहा कि जीमेल के साथ ईमेल स्टोरेज डेटाबेस को दोबारा तैयार किया गया है। नए फीचर्स के साथ जीमेल में स्मार्ट-असिस्टेंट फीचर्स जैसे मेसेज के लिए ‘suggested replies’ और जिन मेल्स को जवाब देना आप भूल गए हैं उनके लिए ‘nudges’ का विकल्प मिलेगा। इसके साथ ही भेजा गया मेल एक निश्चित समय के बाद अपने आप डिलीट हो जाएगा यानी ‘ऑटो डिलीट’ फीचर काम करने लगेगा। जीमेल के प्रोडक्ट मैनेजर ने कहा, ‘यह हमारे फ्लैगशिप प्रोडक्ट का नया अवतार है, जिसे सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया गया है। हालांकि, Google ने इस नए अवतार पर हुए खर्च के बारे में नहीं बताया है।’

सिक्योरिटी और स्मार्ट्स
गूगल के मुताबिक, यूजर्स को 90 दिनों तक ईमेल्स को ऑफलाइन ऐक्सेस करने की सुविधा मिलेगी। इसके अलावा, बिजनस एग्जिक्युटिव्स द्वारा सबसे ज़्यादा मांग किया जाने वाला फीचर- मेसेज एक्सपायरेशन भी आ गया है।

जो यूजर्स ‘confidential’ ऑप्शन के साथ किसी ईमेल को भेजेंगे वो जिसे मेल भेज रहे हैं उसके लिए एक टाइम लिमिट सेट कर सकते हैं। इस फीचर के साथ यूजर्स मेल रिसीव करने वालों की संख्या को सीमित कर सकते हैं। इस ईमेल को पढ़ने के लिए उन्हें अपने मोबाइल पर मिलने वाले वन-टाइम पासकोड को एंटर करने की जरूरत होगी।

‘Nudges’ के जरिए यूजर्स को याद दिलाया जाएगा कि वो किसी ईमेल का जवाब देना भूल गए हैं। यानी अगर यूजर किसी जरूरी ईमेल को जवाब देना चाहते हैं तो उसके लिए एक रिमाइंडर सेट कर सकते हैं।

बात करें लुक की तो जीमेल की वेबसाइट में अब गूगल कैलंडर को जगह मिल गई है। इसके अलावा टास्क और नोट सर्विसेज़ भी ईमेल वाले पेज पर दिखेंगी

नए जीमेल को कैसे पाएं
वेब पर इन नई सर्विसेज़ के साथ जीमेल को अभी इस्तेमाल किया जा सकता है। वहीं कुछ फीचर्स आने वाले दिनों में मिलेंगे।
सबसे पहले जीमेल की सेटिंग में जाएं।
फिर सबसे ऊपर दिख रहे Try the new Gmail को सिलेक्ट करें।
अगर आप वापस पुराने जीमेल को इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सेटिंग में जाकर Go back to classic Gmail सिलेक्ट करें।
अगर आपको सेटिंग में यह विकल्प नहीं मिलता, तो इसका मतलब है कि नए जीमेल को अभी आपके लिए रोलआउट नहीं किया गया है। यानी अभी आपको नए जीमेल के लिए इंतज़ार करना होगा।