मशहूर पत्रकार कमाल खान का दिल का दौरा पड़ने से निधन

Hdnlive|मशहूर टीवी पत्रकार कमाल खान( journalist Kamal Khan ) का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है.(Famous journalist Kamal Khan dies of heart attack) शहर के बटलर पैलेस कॉलोनी स्थित आवास पर उन्हें दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहा डॉक्टरों ने उन्हें मृत(Kamal Khan dies) घोषित कर दिया. कमाल खान टीवी के उन चुनिंदा पत्रकारों(Famous journalist Kamal Khan) में थे जिन्हें बहुत अधिक स्नेह और सम्मान के साथ देखा सुना जाता था. बात हिंदुत्व की हो या खबर किसी गरीब की रोटी या छत का सवाल हो दर्शक ठहर कर कमाल खान की रिपोर्ट देखा सुना करते थे. उनकी पत्रकारिता के इस खास अंदाज ने उन्हें न सिर्फ लखनऊ में बेहद लोकप्रियता दी, बल्कि उनकी आवाज दिल्ली तक भी उसी तरह पसंद की जाती थी.

ये भी एक विशेष बात थी कि राजधानी दिल्ली में रह कर सत्ता के केंद्र से पत्रकारिता करने वाले बहुत से टीवी पत्रकारों पर कमाल खान अपनी खबरों के चयन और भाषा के कारण भारी पड़ते रहे. ये उनका अपना अंदाज ही था जिसने सभी को सिखा दिया कि पत्रकारिता सिर्फ दिल्ली से ही नहीं होती. सौम्यता, शालीनता और सभ्यता के साथ भी कही गई बात सुनी जाती है .कमाल खान की पत्नी रुचि कुमार भी एक सम्मानित पत्रकार है.

ये कमाल खान की निष्पक्ष पत्रकारिता ही है कि मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍नाथ से लेकर अख‍िलेश यादव और मायावती ने भी उनके न‍िधन शोक प्रकट क‍िया है. कमाल खान के न‍िधन के बाद ट्वीटर पर Tear Sir ट्रेंड कर रहा है, ज‍िस पर लोग अपनी तरह से कमाल खान जी को याद कर रहे हैं.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर कहा, “एनडीटीवी से जुड़े प्रतिष्ठित व जाने-माने टीवी पत्रकार कमाल ख़ान की अचानक ही निधन के ख़बर अति-दुःखद तथा पत्रकारिता जगत की अपूर्णीय क्षति.” उनके परिवार व उनके सभी चाहने वालों के प्रति मेरी गहरी संवेदना. कुदरत सबको इस दुःख को सहन करने की शक्ति दे, ऐसी कुदरत से कामना.

वरिष्ठ पत्रकार कमाल खान की हार्ट अटैक से असामयिक मृत्यु परमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा शोक प्रकट किया है. उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. सीएम ने कहा कि पत्रकारिता की यह अपूरणीय क्षति है. कमाल खान जी चौथे स्तंभ व निष्पक्ष पत्रकारिता के एक मजबूत प्रहरी थे. परवर दिगार उनकी आत्मा को शांति दे. कमाल खान के निधन से ना सिर्फ पत्रकारिता जगत के लोगों को बल्कि बड़ी संख्या में उन्हें चाहने वालों को गहरा दुख पहुंचा है.

दरअसल खबरों को पेश करने के अपने खास अंदाज और भाषा के लिए वह काफी लोकप्रिय थे. वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश मिश्रा ने ट्वीट किया, “मशहूर पत्रकार कमाल खान जी का निधन बेहद कष्टप्रद है. पत्रकारिता जगत के लिए बहुत क्षति है उनका ना रहना. देर रात तक वो दायित्वों तक निर्वहन करते रहे. सबसे वरिष्ठ पत्रकार होने के बाद भी फील्ड में रिपोर्टिंग कभी नहीं छोड़ी. खबर पेश करने का उनका अंदाज देशभर में पत्रकारों को प्रेरित करता था. अलविदा।” उधर, समाजवादी पार्टी की ओर से ट्वीट किया गया, “अत्यंत दुखद! एनडीटीवी के वरिष्ठ संवाददाता जनाब कमाल खान साहब का इंतक़ाल, अपूरणीय क्षति. दिवंगत आत्मा को शांति दे भगवान. शोकाकुल परिजनों के प्रति गहन संवेदना। भावभीनी श्रद्धांजलि.”