Breaking News : West Bengal Assembly Election 2021- ममता बनर्जी पर हमला

कोलकाता (hdnlive) . पश्चिम बंगाल (West Bengal Assembly Election 2021) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को आरोप लगाया कि नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान ‘चार-पांच लोगों’ द्वारा कथित रूप से धक्का दिये जाने की वजह से उनके एक पैर में चोट लगी है. घटना शाम सवा छह बजे उस वक्त घटी जब बनर्जी रियापारा इलाके में एक मंदिर में प्रार्थना के बाद बिरूलिया जाने वाली थीं.

mamta banerjee

बनर्जी ने आरोप लगाया कि जब वह कार में सवार हो रही थीं तो चार-पांच लोगों ने उन्हें धक्का दिया. मुख्यमंत्री ने दावा किया कि चोट लगने की वजह से उनके पैर में सूजन आ गयी और उन्हें बुखार जैसा लग रहा है. दूसरी बनर्जी पर हुए कथित हमले के बाद उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी ने भाजपा पर बड़ा हमला बोला है. अभिषेक ने ट्वीट किया कि ‘BJP 2 मई रविवार को BENGAL के लोगों की शक्ति को देखने के लिए खुद को तैया कर ले.’

पैर में सूजन आ गयी और उन्हें बुखार जैसा लग रहा है

बनर्जी के इलाज करने वाली टीम में शामिल चिकित्सक ने बताया कि अस्पताल के चिकित्सकों ने बनर्जी के स्वास्थ्य पर अगले 48 घंटे तक नजर रखने का फैसला किया है. पूर्वी मेदिनीपुर जिले के नंदीग्राम में शाम को कथित हमले के बाद बनर्जी ने सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की थी.

उन्होंने बताया कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख को हल्का बुखार है और उन्हें बांगुर तंत्रिकाविज्ञान संस्थान में एमआरआई के तुरंत बाद अस्पताल के वीवीआईपी वुडबर्न ब्लॉक में एक विशेष वार्ड में भेजा गया है.

EC से मिला TMC प्रतिनिधिमंडल

वहीं ममता पर हमले को लेकर टीएमसी का एक प्रतिनिधिमंडल कोलकाता स्थित चुनाव आयोग के दफ्तर पहुंचा और मांग की है कि इस मामले में उचित कार्रवाई हो. टीएमसी प्रतिनिधिमंडल में सांसद डेरेक ओ ब्रायन, राज्य मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य और पार्थ चटर्जी शामिल थे.

कोलकाता में चुनाव आयोग से मिलने के बाद टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि इस जघन्य घटना के लिए जिम्मेदार लोगों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए. डॉक्टरों से बात करें और देखें कि क्या हुआ. 9 मार्च को चुनाव आयोग ने DGP को बदल दिया.10 मार्च को सोशल मीडिया पर एक बीजेपी सांसद ने पोस्ट किया – ‘आप समझ जयेंगे, शाम 5 बजे के बाद क्या होने वाला है’ और 6 बजे ममता दीदी के साथ यह हुआ. हम इन घटनाओं और इस तरह के व्यवहार की निंदा करते हैं और चाहते हैं कि सच्चाई कायम रहे.

BJP ने कहा-CBI जांच हो

दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी ने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि हम चाहते हैं कि वह जल्द से जल्द ठीक हों. अगर उन्हें सचमुच चोट लगी है तो वह ठीक हों. हकीकत यह है कि जमीन पर पैर फिसला या नहीं लेकिन पैरों तले जमीन जरूर खिसक रही है.

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि अगर कोई साजिश है, तो CBI, NIA, CID को बुलाएं या SIT का गठन करें. आप (ममता बनर्जी) ऐसा क्यों नहीं कर रहीं? साजिश का बहाना बनाकर आप जनता की सहानुभूति प्राप्त करना चाहते हैं. पुलिस, सीसीटीवी कहां है? सीसीटीवी फुटेज निकालिए और सच सामने आएगा.

कांग्रेस नेता ने कहा कि वह हमले, साजिश, हत्या के प्रयास आदि का बहाना बनाकर लोगों से सहानुभूति हासिल करने की कोशिश कर रही हैं. यह हास्यास्पद है कि वह दावा करती हैं कि उनके साथ कोई पुलिस नहीं थी. यह बहाने से चुनाव जीतने की कोशिश है.