झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के नेतृत्व वाला गठबंधन झारखंड में बड़ी जीत की तरफ बढ़ता दिख रहा है। शाम में तस्वीर साफ होते ही जीत से गदगद जेएमएम नेता और राज्य के संभावित मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन साइकिल पर निकले। उनके चेहरे की चमक जीत की खुशी को बयां कर रही थी। उन्होंने बाद में पत्रकारों से कहा कि वह हरेक वर्ग की अपेक्षाओं पर खरा उतरेंगे। उन्होंने चुनाव परिणाम को अपने पिता और दिशोम गुरु के नाम से प्रसिद्ध शिबू सोरेन के अथक परिश्रम का फल बताया।

 उद्देश्य पूरा करने का समय

हेमंत ने कहा, ‘उत्साह का दिन तो है ही, संकल्प लेने का भी दिन है। यहां के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने का दिन है। दिशोम गुरु शिबू सोरेन जी के परिश्रम और समर्पण का परिणाम है। जिस उद्देश्य के लिए यह राज्य बनाया गया था, उसे पूरा करने का वक्त आ गया है।’ उन्होंने कहा कि आगे की नीति गठबंधन दलों के साथ बातचीत के बाद तय होगी। हेमंत ने उनकी पार्टी के साथ कांग्रेस और आरजेडी के महागठबंधन करने पर दोनों पार्टियों के शीर्ष नेतृत्व का आभार व्यक्त किया।

झारखंड के संभावित सीएम ने राज्य की जनता को भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार की सभी समुदायों पर नजर रहेगी। उन्होंने कहा, ‘इस राज्य के लिए एक नया अध्याय शुरू होगा जो एक मील का पत्थर साबित होगा। जिस उम्मीद से लोगों ने हमें वोट दिया है, मैं उनकी उम्मीदें पूरा करने का भरोसा दिलाता हूं।’

इससे पहले, रुझानों में गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिलता देख हेमंत सोरेन ने अपनी खुशी साइकल पर सवार होकर जाहिर की। कांग्रेस-जेएमएम और आरजेडी गठबंधन झारखंड में स्पष्ट बहुमत की ओर बढ़ता दिख रहा है।

विडियो में देखा जा सकता है कि हेमंत साइकल चला रहे हैं और उनका पूरा परिवार वहीं मौजूद है। पास में झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और हेमंत के पिता सिबू सोरेन भी बैठे नजर आए। गौरतलब है कि हेमंत सोरेन ही चुनावों में गठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद का चेहरा थे और यह बात आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी कही थी। वह पहले भी मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

हेमंत सोरेन को सोशल मीडिया पर बधाई मिलनी भी शुरू हो गई हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें बधाई दी है। ममता ने लिखा, ‘जीत के लिए बधाई। उम्मीद है आप झारखंड के लोगों की उम्मीदें पूरी करेंगे। सीएए और एनआरसी के विरोध के साथ हुए चुनाव यह दिखाते हैं कि फैसला जनता के फेवर में है।’ हेमंत ने उन्हें धन्यवाद दिया।

कांग्रेस से शिवसेना में शामिल हुईं प्रियंका चतुर्वेदी ने भी सोरेन को बधाई दी। उन्होंने कहा, ‘आपने साबित कर दिया कि क्षेत्रीय दलों को कोई नजरअंदाज नहीं कर सकता।’ सोरेन ने जवाब में कहा कि झारखंड में लोकतंत्र और समाजवाद के लिए लड़ाई जारी रहेगी।

झारखंड में करारी हार के बाद बोले रघुवर दास-यह मेरी हार, पार्टी की नहीं

झारखंड विधानसभा चुनावों के अब तक के रुझान बता रहे हैं कि बीजेपी के हाथों से झारखंड की सत्ता जाती दिख रही है. इस हार पर झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि यह मेरी हार है, पार्टी की हार नहीं. मैं नतीजों का स्वागत करता हूं.

झारखंड विधानसभा चुनाव के अब तक के रुझान बता रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के हाथों से झारखंड की सत्ता जाती दिख रही है. झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पार्टी के खराब प्रदर्शन पर कहा कि यह मेरी हार है, पार्टी की हार नहीं. मैंने झारखंड के लिए ईमानदारी से काम किया है. मैं नतीजों का स्वागत करता हूं.