. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Act) को लेकर देशभर में हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने दिल्ली के रामलीला मैदान में रैली को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने CAA पर मचे बवाल पर कहा कि यह कानून देश के हिंदू-मुस्लिमों के लिए नहीं है. भारत के 130 करोड़ लोगों का इस कानून से कोई वास्ता नहीं है. पीएम मोदी ने विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा और आगजनी पर कहा कि मेरा पुतला जला लो, लेकिन देश की संपत्ति मत जलाओ. पुलिस पर हमला मत करो. पुलिस जनता की दुश्मन नहीं है.

प्रधानमंत्री मोदी ने नागरिकता कानून पर और क्या कहा:

1 पीएम मोदी ने कहा, ‘नागरिकता संशोधन कानून भारत के किसी नागरिक के लिए, चाहे वो हिंदू हो या मुसलमान, के लिए है ही नहीं है. इस कानून का इस देश के अंदर रह रहे 130 करोड़ लोगों से कोई वास्ता नहीं है. CAA नागरिकता छिनने के लिए नहीं, बल्कि नागरिकता देने के लिए लाया गया है.’

2  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में शरणार्थी और घुसपैठियों में भी अंतर समझाया है. पीएम ने कहा कि एक घुसपैठिया कभी अपनी पहचान नहीं बताता है और एक शरणार्थी कभी अपनी पहचान छुपाता नहीं है. ऐसे कई घुसपैठिये बाहर आ रहे हैं और बोल रहे हैं, वे अपनी सच्चाई क्यों नहीं बताते हैं, वे डरे हुए हैं क्योंकि उनकी हकीकत सामने आ जाएगी.

3  उन्होंने कहा, ‘आज जो लोग कागज-कागज, सर्टिफिकेट-सर्टिफिकेट के नाम पर मुस्लिमों को भ्रमित कर रहे हैं, उन्हें ये याद रखना चाहिए कि हमने गरीबों की भलाई के लिए, योजनाओं के लाभार्थी चुनते समय कभी कागजों की बंदिशें नहीं लगाईं.’

4 पीएम मोदी ने कहा, ‘वोट बैंक की राजनीति करने वाले और खुद को भारत का भाग्य विधाता मानने वाले, आज जब देश की जनता द्वारा नकार दिए गए हैं, तो इन्होंने अपना पुराना हथियार निकाल लिया है-बांटों, भेद करो और राजनीति का उल्लू सीधा करो. आप इनके झांसे में मत आइए.’

5 PM मोदी ने कहा, ‘मैं उनसे जानना चाहता हूं, क्या जब हमने दिल्ली की सैकड़ों कॉलोनियों को वैध करने का काम किया, तो किसी से पूछा क्या कि आपका धर्म है, आपकी आस्था किस तरफ है, आप किस पार्टी के समर्थक हैं? पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग झूठ बोल कर मुस्लिमों में भ्रम फैला रहे हैं.’

6  प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘मैं इन लोगों को कहना चाहता हूं कि मोदी को देश की जनता ने बैठाया, ये अगर आपको पसंद नहीं है, तो आप मोदी को गाली दो, विरोध करो, मोदी का पुतला जलाओ, लेकिन देश की संपत्ति मत जलाओ. गरीब की रिक्शा मत जलाओ. गरीब की झोपड़ी मत जलाओ. पुलिस पर पत्थर मत फेंको.’

7 पीएम मोदी ने कहा कि डिटेंशन सेंटर की बात पूरी तरह से झूठ है. सफेद झूठ. देश में अर्बन नक्सल विचारधारा के कुछ लोग इस तरह का सफेद झूठ फैला रहे हैं. मेरी नौजवानों से अपील है कि आप पढ़े लिखे हैं. पहले नागरिकता कानून को पढ़ लीजिए.

8 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब भी जो भ्रम में हैं, मैं उन्हें कहूंगा कि जो हिंदुस्तान की मिट्टी के मुसलमान हैं, उनसे नागरिकता कानून और NRC दोनों का ही कोई लेना-देना नहीं है. पीएम ने कहा कि CAA का फायदा नये शरणार्थियों को नहीं मिलेगा.

9 पीएम ने कहा, ‘ये एक्ट उन लोगों पर लागू होगा जो बरसों से भारत में ही रह रहे हैं, किसी नए शरणार्थी को इस कानून का फायदा नहीं मिलेगा. पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक प्रताड़ना की वजह से आए लोगों को सुरक्षा देने के लिए ये कानून है.’

10 पीएम मोदी ने लोगों से शांति की अपील करते हुए कहा, ‘मुझे पूरा विश्वास है कि हाथ में थमा यह तिरंगा इन लोगों को हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ, हथियार उठाने वालों के खिलाफ, आतंकवादी हमले करने वालों के खिलाफ भी आवाज उठाने के लिए प्रेरित करेगा. मुझे पूरा विश्वास है कि एक बार जब हाथ में तिरंगा आ जाता है तो वो फिर कभी हिंसा का, अलगाव का, बांटने की राजनीति का समर्थन नहीं कर सकता.’