मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि कुछ खिलाड़ियों पर निर्भर नहीं रहना और दबाव का बखूबी सामना करना उनकी टीम की सफलता का राज है। मुंबई इंडियंस ने सनराइजर्स हैदराबाद को सुपर ओवर में हराकर आईपीएल प्लेऑफ में जगह बना ली।

रोहित ने कहा, ‘एक मैच बाकी रहते प्लेऑफ में पहुंचना अच्छा रहा। हमने 2017 में खिताब जीता था और दो मैच बाकी रहते प्लेऑफ में चले गए थे। एक टीम के रूप में हमने हालात का बखूबी सामना किया है।’ उन्होंने कहा, ‘हमारे कई खिलाड़ियों ने जिम्मेदारी ली है और हम कुछ पर निर्भर नहीं हैं। यही वजह है कि टॉप पांच बल्लेबाजों में क्विंटन डिकॉक को छोड़कर हमारी टीम से कोई नहीं है क्योंकि हम एक टीम के रूप में अच्छा खेल रहे हैं।’

रोहित ने कहा, ‘आपको अगर टूर्नामेंट जीतना है तो हर किसी को अच्छा प्रदर्शन करना होगा। ये एक टीम की निशानी है। हम व्यक्तिगत कौशल के आधार जीतने में यकीन नहीं करते। हम चाहते हैं कि हर खिलाड़ी जीत में योगदान दे।’ पहले बल्लेबाजी के फैसले पर शर्मा ने कहा कि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ आसान लक्ष्य का पीछा करना मुश्किल हो गया था।

उन्होंने कहा, ‘इस साल हालात ऐसे थे कि गेंद दूसरे हाफ में काफी स्पिन ले रही थी। हमने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ देखा कि 170 रन का पीछा करना मुश्किल हो गया था। हमने यह तय किया कि यह अहम मैच है और हम बड़ा स्कोर बनाकर उन्हें लक्ष्य का पीछा करने देंगे।’