श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में तंगधार में पाकिस्तान की ओर से की जा रही फायरिंग में दो भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद अब भारतीय सेना ने पाक अधिकृत कश्मीर के आतंकी कैंपों पर धावा बोल दिया है. भारतीय सेना ने आतंकी कैंपों को निशाना बनाते हुए आर्टिलरी गन से गोले दागे. सूत्रों के मुताबिक, इस जवाबी हमले में पाकिस्तानी सेना के चार से पांच जवान मारे गए हैं और कई अन्य घायल हुए हैं. भारतीय सेना की इस कार्रवाई में PoK में बने कई आतंकी कैंप्स भी तबाह हुए हैं. हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी फिलहाल इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है.

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से पाकिस्तानी सेना की ओर से लगातार भारतीय सुरक्षाबलों को निशाना बनाते हुए हमला किया जा रहा है. जम्मू-कश्मीर के तंगधार में आज ही (रविवार को) पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन करते हुए फायरिंग की. पाकिस्तान की ओर से की गई फायरिंग में दो जवान शहीद हो गए, जबकि एक आम नागरिक की मौत हो गई. फायरिंग में तीन अन्य लोगों के घायल होने की भी खबर है. बताया जाता है कि पाकिस्तान की ओर से गोले भी दागे गए, जिससे तंगधार के एक घर और उसका चावल का भंडार गृह पूरी तरह से ध्वस्त हो गया और उसमें आग लग गई. इस घटना में दो कार, दो गौशाला और 19 भेड़ों की भी मौत हो गई.

पाकिस्तान के निकट के मन्यारी गांव के घरों में भी पाकिस्तान की फायरिंग से काफी नुकसान हुआ है. एएनआई के मुताबिक स्थानीय लोगों का कहना है कि जिस समय पाकिस्तान की ओर से फायरिंग की गई उस वक्त लोग अपने घरों के अंदर सो रहे थे. बाहर होते तो काफी नुकसान होता. पाकिस्तान की आरे से की गई फायरिंग से इलाके के लोगों में दहशत का माहौल है.

घुसपैठ के लिए पाक सेना में हलचल तेज

खुफिया रिपोर्ट में ये साफ हो गया है की गुरेज सेक्टर के दूसरी ओर पीओके में पाकिस्तान सेना की कुछ अतिरिक्त सेना का मूवमेंट भी हुआ है. इनका काम भारतीय सेना को सीजफायर का उलंघन कर फंसा कर रखना है, जिससे घुसपैठ की कोशिश तेज की जा सके. बताया जाता है कि पाकिस्तानी सेना आतंकियों को नई-नई तकनीक की भी ट्रेनिंग देती है, जिसका इस्तेमाल आतंकी भारतीय सेना से बचने के लिए करते हैं. उत्तर कश्मीर को गुरेज सेक्टर में जिस जगह पकिस्तानी सेना की हलचल तेज हुई है उसमें मिनिमार्ग , कामरी, डोमेल और गुल्टारी शामिल हैं.