मुश्किलें सामने आने पर आत्मविश्वास डगमगा सकता है। योजनाएं गड़बड़ा सकती हैं, बाधाएं सामने आ खड़ी होती हैं और हर चीज बिखरती जाती है। यही समस्या से मुकाबला करने का समय होता है। इंसान सामान्य समय के मुकाबले संकट में कई गुना अधिक सीख सकता है। जिस तरह से पत्थर काफी तराशे जाने के बाद एक मूर्ति का आकार लेकर मूल्यवान हो जाता है उसी तरह जीवन भी तमाम संघर्षों से गुजर कर एक मिसाल का रूप ले लेता है। जब मुकाम बड़ा हो मुश्किलें आना भी स्वाभाविक होता है, पर उससे पार न पाया जा सके ऐसा हो ही नहीं सकता, बस जरूरत है लगन, मेहनत और आत्मविश्वास बनाए रखने की। इसे कई लोगों ने साबित भी कर दिखाया है।

जेके रॉलिंग

ब्रिटिश उपन्यासकार और हैरी पॉटर बुक सीरीज की ऑर्थर जेके रॉलिंग से शायद ही आज कोई अंजान होगा। उनके संघर्ष के दिनों का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पहली बुक पब्लिश होने के ठीक तीन साल पहले तक उनके पास अपने बच्चे का पेट भरने के लिए भी दर-दर भटकना पड़ रहा था, लेकिन उनकी मेहनत और लगन के आगे परिस्थितियों को घुटने टेकने पड़े। वह कहती हैं कि भले ही आप कितने ही अंधेरे में क्यों न हो बस आपको रोशनी की उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए और लगातार अपने लक्ष्य के लिए लगातार प्रयासरत रहना चाहिए।

जिम कैरी

कैनेडियन-अमेरिकन एक्टर जिम कैरी जब सिर्फ 14 वर्ष के थे तब उनके पिता को नौकरी से निकाल दिया गया। इसके बाद अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए पहले वह 10 घंटे एक फैक्ट्री में काम करते थे फिर स्कूल जाते थे। फिर उन्हें एक कॉमेडी शो में भाग लेने का मौका मिला और वहां से उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नही देखा। वह कहते हैं कि हर व्यक्ति को अपने सपने पूरे करने के लिए हरसंभव कोशिश करनी चाहिए। क्योंकि जीवन में अवसर न मिले ऐसा हो ही नहीं सकता, उस समय आपके सामने दो ही विकल्प होते हैं या तो खुद को साबित करें या उदासीनता से उस मौके को जाने दें।

क्रिस गार्डनर

अमेरिकन बिजनेसमैन-स्टॉकब्रोकर और मोटीवेशनल स्पीकर क्रिस गार्डनर अपने संघर्ष के दिनों में एक रिसर्च लैब में असिस्टेंट के तौर पर काम करते थे. लेकिन उससे परिवार का भरण-पोषण करना काफी मुश्किल था। वह कहते हैं कि जितनी जल्दी हो सके उस मुकाम को पहचानिए जहां आप जाना चाहते हैं, इसके लिए फिर से सुबह होने का इंतजार कतई मत करिए। कुछ ऐसा करें जिससे आपको खुशी मिले और आप अपने बारे में अच्छी धारणा बना सकें, अच्छा महसूस कर सकें। गार्डनर के वैवाहिक जीवन में भी कई उतार-चढ़ाव रहे, लेकिन वह अपने रास्तों से नहीं भटके और वहां पहुंचे जहां उनकी मंजिल थी।