Lockdown मे फंसे है ? समझें आप कैसे पहुंच सकते हैं अपने घर

देशभर में फंसे मजदूर, पर्यटक, विद्यार्थी, मरीज और उनके परिजन आदि के लिए अपने-अपने घर पहुंचने का रास्ता साफ हो गया है। आइए 10 पॉइंट्स में समझते हैं कि अगर आप भी देश के किसी कोने में फंसे हैं और अपने घर पहुंचना चाहते हैं तो आपको क्या करना होगा…

  1. सबसे पहले ध्यान रखें कि केंद्र सरकार ने फंसे लोगों को आने-जाने की अनुमति नहीं दी है, बल्कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को आपको लाने और ले जाने की अनुमति दी है। इसका मतलबब यह है कि आप अगर कहीं फंसे हैं तो अप खुद से घर जाने की व्यवस्था नहीं कर सकते हैं।
  2. आदेश के मुताबिक, अगर आप अपने राज्य से बाहर किसी दूसरे प्रदेश में फंसे हैं तो आपको अपने राज्य की ओर से भेजी जाने वाली बसों का इंतजार करना होगा।
  3. केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि प्रदेश सरकारें बसों से अपने नागरिकों को ला सकती है या फिर दूसरे प्रदेश के नागरिकों को वहां बसों में भेज सकती है।
  4. ध्यान रहे कि आपके आवागमन के लिए ट्रेनों का संचालन नहीं होगा। यानी, आप सिर्फ और सिर्फ बस और वो भी सिर्फ प्रदेश सरकारों की तरफ से इंतजाम किए गए बसों पर ही निर्भर होंगे।
  5. अगर आपके गृह प्रदेश की सरकार ने आपके यहां बसें भेजने का फैसला किया तो आपको उस लोकल नोडल अथॉरिटी का पता करना होगा जहां आप घर जाने के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। जी हां, आदेश की कॉपी में स्पष्ट किया गया है कि सरकारें नोडल अथॉरिटी के जरिए जाने वालों का रजिस्ट्रेशन करवाएंगी।
  6. एक बात समझ लें कि अगर आप में कोरोना के संक्रमण से होने वाली बीमारी कोविड-19 के कोई लक्षण नहीं हैं, तभी आपको घर जाने की अनुमति दी जाएगी। आपका स्वास्थ्य सही है, इसकी जांच तब होगी जब आप अपना रजिस्ट्रेशन करवाएंगे।
  7. जांच में बिल्कुल तंदुरुस्त पाए जाने के बाद आपको घर जाने की अनुमति दी जाएगी। आपको अपने प्रदेश सरकार की ओर से भेजी गई बस या फिर जहां हैं, वहां की सरकार की तरफ से आपके प्रदेश जाने वाली बस में बिठाया जाएगा।
  8. बस में भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। यानी, वहां भी आपको दूसरे व्यक्ति से दूर बैठना होगा और यात्रा के दौरान किसी से घुलना-मिलना नहीं होगा।
  9. अगर आप यह सोच रहे हैं कि घर पहुंचते ही आप सबसे घुलने-मिलने लगेंगे तो यह गलतफहमी मन से निकाल दीजिए। बस से उतरते ही आपकी स्वास्थ्य जांच होगी। अगर सब ठीक-ठाक रहा तो आपसे कहा जाएगा कि कुछ दिनों तक होम क्वारंटीन में रहें। आपको घर में ही रहने की अनुमति होगी लेकिन परिवार के सदस्यों से दूरी बनाकर।
  10. अगर बस से उतरने पर स्वास्थ्य जांच में कुछ गड़बड़ी पाई गई तो आपको वहीं से सीधे अस्पताल या अन्य स्वास्थ्य केंद्र भेज दिया जाएगा। आपकी समय-समय पर जांच होती रहेगी।