विश्व के अधिकतर नेताओं ने बाइडेन की जीत के बाद जताई उम्मीद

वाशिंगटन । विश्वभर के नेताओं ने डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडेन (joe Biden) को अमेरिका का राष्ट्रपति (America President ) चुने जाने के बाद उन्हें बधाई दी और इस जीत को वैश्विक लोकतंत्र मजबूत करने का अवसर करार दिया। उन्होंने अमेरिका में उपराष्ट्रपति पद के लिए पहली बार किसी महिला के चुने जाने पर भी खुशी जताई। कमला हैरिस को उप राष्ट्रपति चुना गया है। हालांकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने हार स्वीकार नहीं की है, लेकिन पुन: चुने जाने की उनकी कोशिश के नाकाम रहने पर कई देशों के नेताओं ने राहत जताई।

फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने ट्वीट किया, ‘‘अमेरिकियों ने अपना राष्ट्रपति चुन लिया है। जो बाइडेन एवं कमला हैरिस को बधाई। हमें आधुनिक चुनौतियों से पार पाने के लिए बहुत कुछ करना है। आइए, मिलकर काम करें।’’ इसके अलावा जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, नाटो महासचिव जेन्स स्टोल्टेनबर्ग और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी ने भी बाइडेन को बधाई दी। ट्रंप के महाभियोग और बाइडेन एवं उनके परिवार को भ्रष्ट दिखाने की ट्रंप प्रचार मुहिम के केंद्र में रहे देश यूक्रेन ने भी बाइडेन को जीत के तुरंत बाद बधाई दी।

अमेरिका के कई पश्चिमी सहयोगियों ने भी वाशिंगटन में नए प्रशासन की शुरुआत का स्वागत किया। जर्मनी के विदेश मंत्री हाइको मास ने ट्वीट किया, ‘‘हम अमेरिका के अगले राष्ट्रपति के साथ मिलकर काम करने के इच्छुक हैं।’’ हालांकि स्लोवेनिया के प्रधानमंत्री जानेज जांसा दुनिया के एकमात्र ऐसे नेता थे, जिन्होंने डोनाल्ड ट्रंप को मतगणना से पहले ही बधाई दे दी थी और बाइडेन की जीत की घोषणा के बाद भी उन्होंने ट्रंप को समर्थन देना जारी रखा। बाइडेन की जीत के बाद इराक में भी मिश्रित प्रक्रिया देखने को मिली। कई इराकी 2003 में इराक में अमेरिकी आक्रमण को लेकर बाइडेन को याद करते हैं।

हालांकि इराकी राष्ट्रपति बरहम सालेह ने ट्वीट करके बाइडेन को जीत की बधाई दी और उन्हें एक मित्र और विश्वसनीय साझेदार बताया। ट्रंप प्रशासन की नीतियों से अहसमत देशों के अलावा उन देशों के नेताओं ने भी बाइडेन को जीत की बधाई दी, जिनके ट्रंप के साथ अच्छे संबंध रहे हैं। संयुक्त अरब अमीरात के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने बाइडेन और निर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को बधाई दी। मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के ट्रंप के दामाद जारेड कुश्नेर के साथ अच्छे संबंध रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाइडेन के साथ अपनी फोटो साझा की और उन्हें ‘‘शानदार जीत’’ की बधाई दी। मोदी के ट्रंप के साथ भी अच्छे संबंध रहे हैं। ट्रंप के एक अन्य सहयोगी एवं ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बाइडेन को जीत की बधाई दी। मोदी एवं जॉनसन ने हैरिस को भी बधाई दी। इसके अलावा नाइजीरिया के राष्ट्रपति मोहम्मदु बुहारी ने भी बाइडेन को जीत की बधाई दी। हालांकि ट्रंप के साथ अच्छे संबंध रखने वाले कुछ नेता चुनाव परिणाम की घोषणा के बाद भी चुप रहे। इन नेताओ में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो, इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और सउदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान शामिल हैं। नेतन्याहू के विरोधी इस्रालियों ने बाइडेन की जीत का स्वागत किया। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बाइडेन की जीत पर तत्काल कोई बयान नहीं दिया।