श्रम कानून के विरोध में प्रदर्शन

नई दिल्ली । श्रम कानून (Labour law ) के विरोध में श्रमिकों ने बुधवार को श्रम शक्ति भवन के बाहर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में दिल्ली के संगठित व असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों ने हिस्सा लिया। भारतीय मजदूर संघ (Indian labor union) दिल्ली प्रदेश की ओर से यह प्रदर्शन आयोजित किया गया था।

संघ के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी. सुरेंद्रन का कहना था कि संसद में पारित श्रम कानूनों में अनेक मजदूर विरोधी प्रावधान हैं जिसका श्रमिक जगत पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा। 300 से कम कर्मचारियों वाले संस्थान का मालिक कभी भी नौकरी से श्रमिक की छंटनी कर सकता है। प्रदर्शन का संचालन कर रहे प्रदेश महामंत्री अनीश मिश्रा ने कहा कि श्रमिक संगठनों को कमजोर करने की नीयत से मजदूरों को हड़ताल से वंचित करने के प्रावधान कानून में किए गए हैं। 40 से कम मजदूर वाले उद्योगों को कारखाने की परिभाषा से दूर कर दिया गया है। इस कारण श्रमिकों को श्रम कानूनों का लाभ नहीं मिलेगा।