सऊदी के लोग अब पाकिस्तानी लड़कियों से नहीं कर सकते शादी, जानें वजह

सऊदी अरब के पुरुष अब पाकिस्तान, बांग्लादेश, चाड और म्यांमार की महिलाओं से शादी नहीं कर पाएंगे। पाकिस्ताननी अखबार डॉन ने सऊदी मीडिया के हवाले से एक रिपोर्ट में लिखा। अनौपचारिक आंकड़ों के मुताबिक वर्तमान में इन चार देशों में लगभग 5 लाख महिलाएं हैं। विदेशियों से शादी करने की इच्छा रखने वाले सऊदी पुरुषों को अब सख्त नियमों का सामना करना पड़ेगा, मक्का के पुलिस महानिदेशक मेजर जनरल असफ अल-कुरैशी के हवाले से मक्का की एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

डॉन ने बताया कि इस कदम का उद्देश्य सऊदी पुरुषों को विदेशियों से शादी करने से रोकना है। बता दें कि विदेशियों के साथ शादी की अनुमति जारी करने से पहले अतिरिक्त औपचारिकताएं रखी गई हैं।

कुरैशी ने कहा, “विदेशी महिलाओं से शादी करने की इच्छा रखने वालों को पहले सरकार की सहमति लेनी चाहिए और आधिकारिक चैनलों के जरिए विवाह के आवेदन प्रस्तुत करने चाहिए।”

कुरैशी ने कहा कि तलाकशुदा पुरुषों को तलाक के छह महीने के भीतर आवेदन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। अधिकारी ने कहा कि आवेदकों की उम्र 25 से अधिक होनी चाहिए और स्थानीय जिला महापौर द्वारा हस्ताक्षरित पहचान दस्तावेजों के साथ-साथ अन्य सभी पहचान पत्रों को संलग्न करना चाहिए, जिसमें उनके परिवार के कार्ड की एक प्रति शामिल है।